Wednesday, August 19, 2009

पीर नफे की मजार, मुंगेर


ये 1840 में पीर नफे मजार का नजारा है. नीचे एक कच्ची सड़क जा रही है जो सोझी घाट की तरफ के गेट से आ रही है. यहां एक बस्ती है जिसमें राजा के महल में काम करने वाले लोगों का परिवार रहता था. पीछे एक टीले पर एक बड़ा सा घर नज़र आ रहा है जिसे अंग्रेजों ने कलेक्टर की कोठी में बदल दिया. ये आज भी ये डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट का घर है. कोठी के बगल में एक तालाब भी नजर आ रहा है.. जो पोलो फील्ड की शक्ल में आज मौजूद है.

1 comment:

  1. Hello my friend
    How are you my friend?
    I wish you a happy day
    I will visit your blog
    If you have time please visit my site

    http://laptop2vpro.blogspot.com/

    http://love2vqn.blogspot.com/

    ReplyDelete